पाकिस्तान ने जब-जब की है बर्बरता, भारतीय सेना ने वसूली है बड़ी कीमत -dkanews.com - Dkanews: Latest News, India News, Breaking News, Business, Bollywood, Cricket, Videos

Breaking

Friday, 27 October 2017

पाकिस्तान ने जब-जब की है बर्बरता, भारतीय सेना ने वसूली है बड़ी कीमत -dkanews.com

 पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर भारतीय जवानों के साथ बर्बरता कर पुराने दर्द को कुरेदा है। सीमा पर पाकिस्तानी सेना द्वारा एक बार फिर से भारतीय शहीदों के साथ बर्बरता की घटना सामने आई है। सीजफायर का उल्लंघन करना तो पाक की फितरत रही है। आज तो इन पाकिस्तानियों ने हद ही कर दी पाकिस्तानी फायरिंग में शहीद 2 जवानों के शवों के साथ बर्बरता की।
कारगिल से लेकर अब तक कई बार शहीद भारतीय सैनिकों के साथ पाकिस्तान फौज ने इसी तरह की हैवानियत दिखाई है। 1999, 2013, 2016 और अब 2017 पाक हर बार अपनी इस बर्बरता को आजमाता रहा है:-
1) 1999 के कारगिल युद्ध के दौरान:- चोरी छिपे भारतीय सीमा में प्रवेश करनेवाले पाकिस्तानी घुसपैठियों का पता लगाने गए भारतीय सेना की गस्ती दल के सदस्यों की हत्या कर उनके शवों के साथ बर्बरता पूर्ण घटना को अंजाम दिया गया। कारगिल युद्ध के दौरान पायलट नचिकेता के साथ भी दुर्वयवहार किया गया। जंग के दौरान कैप्टन सौरभ कालिया को पाकिस्तान की सेना ने प्रताड़ित किया था और बाद में उनके शव के साथ बर्बरता की गई। कैप्टन कालिया, सिपाही अर्जुनराम बासवाना, मूला राम, नरेश सिंह, भंवर लाल बागड़िया और भीखाराम मुध को जिंदा पकड़ कर उनके साथ बर्बरता की सारी हदें पार कर दी थी। इन जवानों के कानों के पर्दें में गर्म छड़ से छेद कर दिया , आँखे फोड़ दी, दांत तोड़ डाले, यौनांगों को काट दिया, सिर की हड्डियों को भी तोड़ डाला। होंठ तक काट डालें।
2) 2008 की घटना:- पाकिस्तान वार्डर एक्शन टीम के सदस्यों ने भारतीय सेना के गोरखा राइफल के एक जवान का सिर काट दिया था।
3) माछिल सेक्टर की घटना:- nov 2016 में कश्मीर के माछिल सेक्टर में तीन भारतीय जवान शहीद हो गए थे। राष्ट्रीय राइफल्स के तीन जवान पेट्रोलिंग पर जा रहे थे। घात लगाये पाकिस्तानी सैनिकों ने उनपर हमला कर दिया। उनकी शवों के साथ बर्बरता को अंजाम दिया।
4) 2013 की घटना:- 8 जनवरी 2013 को सीमा के कृष्णा घाटी सेक्टर में भारतीय क्षेत्र में दाखिल होकर दो भारतीय सैनिकों लांसनायक सुधाकर सिंह और लांसनायक हेमराज को मार डाला। हेमराज का सिर काटकर उसकी आँखें निकाल ली गई थी।
ये तो बस कुछ घटनाएं हैं। जिनका यहां उल्लेख है। पाकिस्तानी सेना की घटिया हरकतों की दास्तान बहुत लम्बी है। हमें हर हाल में हर कीमत पर पाकिस्तान को सबक सिखाना है। ताकि वो अपनी इन जघन्य कृत्यों से बाज आये।
पाकिस्तान ने आज जो दो जवानों के साथ किया है, वो कोई नई घटना नहीं है। मगर, जरूरी है कि भारतीय सेना भी उसका माकूल जवाब दे ताकि पाकिस्तान ऐसी घटिया हरकत करने से पहले सौ बार जरूर सोचे।

No comments:

Post a Comment